Rail News

भारतीय रेलवे ने बनाया खास वॉश बेसिन बिना छुए लोग करेंगे इस्तेमाल

देश में व्याप्त कोरोना वायरस के खतरों से निपटने को लेकर रेलवे लगातार प्रयासरत है। रेलवे दिन रात इस भयंकर महामारी में देश के लिए अहम भूमिका निभा रहा है। रेलवे ने अपने कर्मचारियों को कोरोना वायरस से बचने के लिए एक अनोखी तरकीब ढूंढ निकली है जिसे आने वाले दिनों में यात्रियों के लिए भी इस्तेमाल किया जायगा। रेलवे के इस नए प्रयोग की पुरे देश में चर्चा हो रही है। पूर्व मध्य रेल के धनबाद रेल मंडल की सभी लोग भूरी भूरी प्रशंसा कर रहे है । कोरोनोवायरस का मुकाबला करने के आज जहा सामजिक दुरी बरतने की सलाह दी जा रही है वही, भारतीय रेलवे ने एक आटोमेटिक वॉश बेसिन विकसित किया है जिसमें पानी के नल और साबुन की मशीन बिना स्पर्श किये खुद से संचालित होती है।
यह भी पढ़े:लॉकडाउन से सारे ट्रेन हुए कैंसिल! जानिए रिफंड चेक करने का ऑनलाइन तरीका
जाने कैसे काम करता है आटोमेटिक वॉश बेसिन
पूर्व मध्य रेलवे (ईसीआर) के प्रवक्ता ने कहा कि धनबाद मंडल के बरवाडीह वैगन केयर सेंटर द्वारा इस खास वाश बेसिन को विकसित किया गया है। आज के समय में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाली इस बेसिन का उपयोग करने के लिए, एक व्यक्ति को लीवर को पैर से दबाए होना होगा जिससे पानी और हैण्ड वाश को स्वतः इस्तेमाल के लिए बिना छुए निकाला जा सकेगा । ईसीआर के अधिकारी ने कहा, “सिस्टम को बनाने का मकसद हाथ धोने के लिए आसान और उपयोग करने के लिए बिना छुए अपनी हाथो को धोकर लोगो के स्वास्थ्य के मद्देनजर किया गया है , उन्होंने कहा की हमारे अभिनव कर्मचारियों द्वारा इसे विकसित किया गया है जो की कोविद -19 के फैलाव को रोकने में मददगार साबित होगा ।

कोरोना से लड़ने में मजबूती के साथ खड़ा है रेलवे
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को राष्ट्र के नाम अपने संबोधन में 21 मार्च को देशव्यापी लॉक डाउन की घोषणा के बाद रेलवे ने 24 मार्च को यात्री, मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों को निलंबित कर दिया था । पूरे देश में आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए केवल मालगाड़ी सेवाओं को चलाया जा रहा है। भारतीय रेलवे अपने उत्पादन केंद्रों पर मास्क, सैनिटाइजर, एप्रन, मेडिकल बेड, आईवी स्टैंड, संशोधित वॉश बेसिन और अन्य चिकित्सा उपकरण भी बना रहा है।
देश में तेजी से बढ़ रहे है कोरोना वायरस के मामले
कोरोना वायरस एक तरफ जहा पुरे विश्व में महामारी बनकर उभरा है वही इसका कहर भारत पर भी लगतार जारी है । स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, भारत में कोरोनोवायरस के मामलों की संख्या बुधवार को 1730 तक पहुंच गई और मौतों की संख्या बढ़कर 55 हो गई है। इस भयंकर खतरे से जूझ रही भारत में जारी लॉक डाउन में भारतीय रेलवे लगातार लाखो गरीबो एव मजदूरों को खाना मुहैया कर रही है| रेलवे इसके लिए अपने बेस किचन का उपयोग कर रही है जिसमे लोगो के स्वास्थ्य का विशेष खयाल रखते हुए स्वच्छ तरीके से भोजन बनाए जा रहे है|

Recent Post

Central Railway Will Run Additional Trains for North India
Central Railway Will Run Additional Trains for North India
What is the Meaning of Cross Symbol on Trains? Know the Details
What is the Meaning of Cross Symbol on Trains? Know the Deta...
IRCTC: Railways Cancelled Ticket Concession for All 30 Categories
IRCTC: Railways Cancelled Ticket Concession for All 30 Categ...

Top Categories

Author: Rohit Choubey


Rohit is an avid blogger as well an eminent digital marketeer. He has immense passion towards food blogging. His hobbies include travelling, cooking and watching movies. He is the content analyst for RailMitra.