Train Ticket

क्या है IRCTC VIKALP योजना? कैसे कर सकते हैं इससे कन्फर्म टिकट बुक

भारतीय रेलवे सफ़र करने के लिए एक शानदार माध्यम है लेकिन तब ही जब आपकी टिकट कन्फर्म हो। आप सुकून से बैठ और सो कर अपनी लंबी ट्रेन यात्रा पूरी कर सकते हैं। कन्फर्म सीट और बर्थ होने पर आप इत्मीनान से बैठ कर ट्रेन में खाना ऑर्डर कर सकते हैं और खाने का लुत्फ़ उठा सकते हैं। पर जब आपकी टिकट कन्फर्म नहीं होती आपको परेशानियों का सामना करना पड़ता।

 

 

पहले तो अगर आप ने टिकट ऑनलाइन बुक किया है और वो वेटिंग लिस्ट में हैं तो आप सफ़र नहीं कर सकते हैं। हालांकि अगर आप प्लेटफॉर्म टिकट या जनरल टिकट ले कर ट्रेन में सवार हो जाते हैं, और टिकट ऑनबोर्ड टिकट कलेक्टर से लेते हैं तो आप सफ़र कर सकते हैं। लेकिन कई बार टीटी से टिकट लेने के बाद भी आपको कन्फर्म सीट नहीं मिलती, खास तौर पर व्यस्त रूट वाले ट्रेन में जैसे पटना-मुंबई, लखनऊ-दिल्ली इत्यादि। ऐसे में आप दूसरों की सीट अथवा बर्थ में मैनेज करने की कोशिश करते हो या आपको खड़ा हो कर ही यात्रा करना पड़ता है। 

 

इन परेशानियों से निजात पाने के लिए आप आईआरसीटीसी विकल्प योजना का चुनाव अपनी टिकट बुकिंग के दौरान कर सकते हैं। इस योजना के तहत बुक की गई ट्रेन टिकट के कन्फर्म होने की उम्मीद बढ़ जाती है। आईआरसीटीसी ने विकल्प ट्रेन टिकट स्कीम साल 2015 में ज्यादा से ज्यादा यात्रियों को कन्फर्म टिकट मुहैया करने के उद्देश्य से किया था। 

 

 

IRCTC VIKALP स्कीम  कन्फर्म ट्रेन टिकट बुक करने में होगी मददगार 

 

VIKALP स्कीम भारतीय रेलवे में सफ़र कर रहे यात्रियों की सुविधा के लिए शुरू किया गया एक योजना है, जिसके ज़रिए यात्री ऑनलाइन वेटिंग टिकट बुक करने के दौरान कन्फर्म टिकट पाने के लिए अन्य ट्रेन का  विकल्प चुन सकते हैं। ऐसा करने से यात्री  के कंफर्म ट्रेन  टिकट पाने की उम्मीद बढ़ जाती है।  इस स्कीम को अल्टरनेट ट्रेन एकोमोडेशन स्कीम (ATAS) भी कहते हैं।  इस स्कीम से रेलवे अधिकतम यात्रियों को कंफर्म टिकट मुहैया करा पाएगी, साथ ही उपलब्ध अकॉमडेशंस का पूरी तरह उपयोग कर सकेगी। 

 

IRCTC विकल्प टिकट बुकिंग स्कीम के कारण त्योहारों के सीजन अथवा व्यस्त रूट की ट्रेनों में यात्रियों को कंफर्म टिकट मिलने की संभावना काफी बढ़ जाती है। हालांकि यह स्कीम यह सुनिश्चित नहीं करती कि आपको कन्फर्म ट्रेन टिकट प्राप्त हो जाएगी। यह सुविधा अन्य ट्रेन एवं उनमें बर्थ की उपस्थिति पर निर्भर करती है। 

 

 

कैसे चुने ट्रेन टिकट विकल्प बुकिंग 

 

जब आप भारतीय रेलवे में IRCTC e-ticketing या अन्य किसी प्लेटफॉर्म के माध्यम से टिकट बुक कर रहे होते हैं तो आप टिकट की वर्तमान अवैलबिलिटी देख सकते हैं। आप ट्रेन seat availability चेक करने के लिए रेलमित्रा जैसे रेल मदद ऐप का भी प्रयोग कर सकते हैं। जब आप देखे की ट्रेन में सीट की उपलब्ध नहीं है या वेटिंग में दिखा रही तो ट्रेन टिकट ऑनलाइन बुकिंग के दौरान irctc vikalp का चुनाव कर लें। इसके तहत आपके बूकड ट्रेन के अलावा आप उसी राउट की सात अन्य ट्रेन चुन सकते हैं।  ऐसा करने पर अगर आपने जिस ट्रेन के लिए टिकट बुक किया है, उस ट्रेन में चार्ट बनने के बाद भी टिकट वेटिंग में रह जाता है या बुकिंग हिस्ट्री से यह साफ जाहिर होता है कि टिकट वेटिंग में होगी तो भारतीय रेलवे आपको आपके चुने अन्य ट्रेनों में आपके लिए कन्फर्म टिकट बुक करने का प्रयास करेगी। 

 

IRCTC विकल्प सुविधा लेने के लिए – 

 

  • आईआरसीटीसी एप्लिकेशन या वेबसाईट पर जाएं और अपना टिकट बुक करें जैसे आप सामान्य रूप से करते हैं। 
  • अगर टिकट बुक करते समय आपको कन्फर्म टिकट नहीं मिल रहा है, तो टिकट विवरण के ठीक नीचे उपलब्ध ‘विकल्प’ ऑप्शन पर क्लिक करें। 
  • इसके बाद आपको अपनी पसंद की ट्रेन चुनने का विकल्प मिलेगा। आप अधिकतम सात ट्रेनों को चुन सकते हैं। अगर टिकट बुकिंग के दौरान विकल्प ऑप्शन नहीं आए तो आप बूकड टिकट हिस्ट्री में जा कर भी विकल्प टिकट का चुनाव कर सकते हैं। 
  • ऑप्शन चुनने के बाद  ‘सबमिट’ बटन पर क्लिक करें। आपका ‘विकल्प’ ऑप्शन एक्टिव हो जाएगा। जिसके बाद आप पीएनआर स्थिति जांच में आईआरसीटीसी विकल्प का  चुनाव देख सकते है। 

 

इसके अलावा, अगर आपने टिकट काउन्टर से बुक किया है तो भी आप आईआरसीटीसी विकल्प ऑप्शन ऑनलाइन चुन सकते है। आपको बस रेल कनेक्ट एप पर लॉग इन करना है और “more” ऑप्शन पर क्लिक करें। यहाँ विकल्प फॉर काउन्टर टिकट (Vikalp for counter ticket) पर क्लिक करें। अपना टिकट पीएनआर नंबर और ट्रेन नंबर डाल कर अपने काउन्टर टिकट के लिए विकल्प ऑप्शन चुन लें। 

 

 

 

विकल्प आईआरसीटीसी स्कीम से जुड़ी महत्वपूर्ण बातें 

 

  • यात्रियों को यह पता होना चाहिए कि विकल्प चुनने का मतलब यह नहीं है कि वैकल्पिक ट्रेन में यात्रियों को कंफर्म बर्थ मुहैया करा दी जाएगी। यह ट्रेन और बर्थ की उपलब्धता पर निर्भर करती है। आईआरसीटीसी विकल्प का मतलब है कि रेलवे आपको कन्फर्म  बर्थ  मुहैया करने की कोशिश करेगी। जिससे आपके टिकट के कन्फर्म होने के उम्मीद बढ़ जाएगी। 
  • अगर आपके चुने हुए वैकल्पिक ट्रेन में टिकट कन्फर्म हो जाता है किन्तु आप उसमे सफ़र नहीं करना चाहते तो टिकट कैंसिलेशन के दौरान आपके  टिकट का  कैंसिलेशन शुल्क वैकल्पिक ट्रेन में आपकी बर्थ/ट्रेन की स्थिति के अनुसार होगा।
  • विकल्प योजना में, आपका बोर्डिंग और टर्मिनेटिंग स्टेशन पास के स्टेशनों के साथ बदल सकता है। जैसे अगर आप ने पटना जंक्शन से छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस के लिए टिकट बुक किया किन्तु उसमें टिकट उपलब्ध नहीं है और पाटलीपुत्र से लोकमान्य तिलक वाले ट्रेन में टिकट उपलब्ध है तो आपकी टिकट पाटलीपुत्र से लोकमान्य तिलक टर्मिनस के लिए बुक हो जाएगी। 
  • आपको किसी भी वैकल्पिक ट्रेन में मूल ट्रेन जिसमें आपने बुकिंग की है के निर्धारित प्रस्थान से 30 मिनट से 72 घंटे के बीच स्थानांतरित किया जा सकता है।
  • अगर आप आईआरसीटीसी विकल्प चुनते है तो पीएनआर स्टैटस (PNR Status) चेक चार्ट बनने के  बाद भी करें, ताकि आपको वैकल्पिक ट्रेन में बुकिंग कन्फर्म होने की जानकारी मिल सकें। हालांकि आईआरसीटीसी टिकट कन्फर्म होने पर आपके रेजिस्टर्ड मोबाईल नंबर पर एसएमएस भी भेजती है। 

 

 

 ट्रेन टिकट विकल्प बुकिंग के सामान्य नियम और शर्तें

 

  • ट्रेन टिकट विकल्प  बुकिंग योजना सभी ट्रेनों व कोचों के यात्रियों के लिए लागू की गई है।
  • विकल्प टिकट बुकिंग ऑप्शन काउन्टर और ई-टिकट दोनों के लिए उपलब्ध है। 
  • यह योजना बुकिंग कोटा और रियायत के बावजूद प्रतीक्षा सूची के सभी यात्रियों के लिए लागू है।
  • इस योजना के तहत, यात्री विकल्प योजना के लिए अधिकतम 7 ट्रेनों का चयन कर सकते हैं। 
  • विकल्प टिकट, बुकिंग के दौरान वेटिंग में होता है, साथ ही चार्ट बनने के बाद पूरी तरह से वेटिंग लिस्ट में रहता है, तब ही उस ट्रेन टिकट के लिए वैकल्पिक ट्रेन में सीट मुहैया कराने पर विचार किया जात है। मूल ट्रेन में टिकट अगर चार्ट तैयार होने तक आरएसी में हो तो कन्फर्मेशन के लिए अल्टरनेट ट्रेन एकोमोडेशन स्कीम का उपयोग नहीं होता।   
  • यात्री को वैकल्पिक ट्रेन में टिकट आवंटित करने के बाद किराए के अंतर के लिए  कोई अतिरिक्त शुल्क नहीं लिया जाता है और ना ही कोई रिफंड प्रदान किया जाता है।
  • एक पीएनआर के सभी यात्रियों को वैकल्पिक ट्रेन के एक ही कोच में स्थानांतरित नहीं किया जाता है।  
  • विकल्प स्कीम द्वारा वैकल्पिक ट्रेन में सीट पाने वाले यात्री को मूल ट्रेन के प्रतीक्षा सूची चार्ट में शामिल नहीं किया जात है। वैकल्पिक ट्रेन में स्थानांतरित यात्रियों की एक अलग सूची कन्फर्म और प्रतीक्षा सूची चार्ट के साथ चिपकाई जाएगी।
  • वैकल्पिक स्थान आवंटित यात्री मूल टिकट या एसएमएस के आधार पर वैकल्पिक ट्रेन में यात्रा कर सकता है। 
  • वैकल्पिक ट्रेन में सीट आवंटित होने के बाद यात्री सामान्य यात्री के रूप में माने जाते है। जरूरत पड़ने पर उनके कोच या बर्थ को  अपग्रेड किया जा सकता है। साथ ही, उन्हे मूल ट्रेन में सवार होने की अनुमति नहीं होगी।
  • कुछ दुर्लभ परिस्थितियों में यात्रियों को वैकल्पिक स्थान प्राप्त होने के बाद भी कुछ बदलाव किया जा सकता है। इसलिए वैकल्पिक ट्रेन के चार्ट  तैयार होने के अंतिम स्थिति तक पीएनआर स्थिति की  जांच करना विकल्प टिकट वाले यात्रियों के लिए अनिवार्य है। 
  • irctc विकल्प  ट्रेन टिकट की  जानकारी यात्री कॉल सेंटर (139), पीआरएस पूछताछ काउंटरों, स्टेशनों पर स्थापित यात्री संचालित पूछताछ टर्मिनल और www.indianrail.gov.in पर वेब पूछताछ के जरीए प्राप्त कर सकते हैं। 
  • एक बार विकल्प चुनने वाले यात्री को वैकल्पिक सीट आवंटित कर दिए जाने के बाद, यात्रा संशोधन की अनुमति नहीं दी जाती है। ऐसी स्थिति में यात्री को टिकट रद्द कर नए यात्रा के लिए नया टिकट बुक करना होगा।
  • जब आप वैकल्पिक ट्रेन में स्थान आवंटित होने के बाद  ट्रेन यात्रा रद्द करते है तो टीडीआर दर्ज करके रिफंड के लिए दावा कर सकता है।
  • विकल्प योजना के तहत चयनित ट्रेनों की सूची को केवल एक बार अपडेट किया जा सकता है।
  • ट्रेन टिकट के बाद एक बार विकल्प योजना को सफलतापूर्वक चुन लेने के बाद आप बदल नहीं सकते हैं।

 

मुझे कैसे पता चलेगा कि मेरा विकल्प टिकट कन्फर्म है?

 

आप पीएनआर जांच के माध्यम से विकल्प टिकट कान्फर्मैशन का पता लगा सकते हैं। इसके अलावा यात्री कॉल सेंटर (139), पीआरएस पूछताछ काउंटरों, स्टेशनों पर स्थापित यात्री संचालित पूछताछ टर्मिनल और www.indianrail.gov.in पर वेब पूछताछ के जरीए विकल्प टिकट के कन्फर्मेशन की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। 

 

अगर विकल्प टिकट स्टैटस कन्फर्म नहीं होता है तो क्या होगा? 

 

विकल्प ट्रेन टिकट को भी सामान्य टिकट की तरह ही माना जाता है। अतः, यदि वैकल्पिक ट्रेन का ऑप्शन चुनने के बाद भी रेलवे कन्फर्म सीट उपलब्ध नहीं करा पाती, तो टिकट स्वत ही कैसल हो जाता और यात्री को ट्रेन किराया रिफन्ड कर दिया जाता है।  

 

आईआरसीटीसी विकल्प स्कीम का लाभ क्या है?

 

आईआरसीटीसी विकल्प स्कीम आपको ऑल्टर्नेट ट्रेन अकोमोडेशन की सुविधा देती है, जिसको चुनने के बाद आपके ट्रेन टिकट कन्फर्म होने की उम्मीद बढ़ जाती है। इस स्कीम के तहत किसी और ट्रेन में बुकड टिकट  वैकल्पिक ट्रेन के लिए कन्फर्म ट्रेन टिकट प्राप्त होने पर वैध्य हो जाता है।  आप वैकल्पिक ट्रेन की समय सारणी (train schedule) ऑनलाइन चेक कर सकते हैं। साथ ही उस ट्रेन की लाइव रनिंग स्टैटस की जानकारी भी प्राप्त कर सकते हैं। 

 

रेलमित्रा एक रेलवे ऐप है जिनका इस्तेमाल यात्री रेल सफ़र प्लानिंग के दौरान कर सकते हैं। इसकी स्मार्ट इन्टेलिजन्स टूल्स के मदद से आप ट्रेन टाइमटेबल, ट्रेन लाइव स्टैटस, पीएनआर चेक, सीट अवैलबिलिटी, ट्रेन फेयर की जांच कर सकते हैं। साथ ही आप इस ऐप की मदद से ट्रेन में खाना भी ऑर्डर कर सकते हैं। 

Recent Post

Crucial Tips: How to Travel Rann of Kutch
Crucial Tips: How to Travel Rann of Kutch
How to Transfer a Confirmed Railway Ticket to Another Person
How to Transfer a Confirmed Railway Ticket to Anot...
Traveling by Indian Railways? Know about the Best Mobile Network
Traveling by Indian Railways? Know about the Best...
Do You Know These Interesting Facts About Rajdhani Express
Do You Know These Interesting Facts About Rajdhani...
Know All About Indian Railways Super Vasuki Train
Know All About Indian Railways Super Vasuki Train

Rail News

Indian Railways Special Trains to Handle the Shravani Mela Rush
Indian Railways Special Trains to Handle the Shrav...
Why Train Accidents Occur in India
Why Train Accidents Occur in India
Passengers Can Now Order Food in Train on Whatsapp 
Passengers Can Now Order Food in Train on Whatsapp...
Milestone for Railways: Meghalaya Receives First Electric Train
Milestone for Railways: Meghalaya Receives First E...
Indian Railways Amrit Bharat Scheme All You Need to Know
Indian Railways Amrit Bharat Scheme All You Need t...

Top Categories